रतन टाटा का जीवन परिचय, बचपन और सक्सेस स्टोरी Ratan Tata Biography in Hindi

Ratan Tata Biography in Hindi: दिग्गज उद्योगपति रतन टाटा का जन्म 28 दिसंबर 1937 को सूरत में हुआ था. उनके पिता का नाम नवल टाटा और माता का नाम सूनी टाटा था। रतन टाटा ने शुरुआती पढाई मुंबई के कैथेड्रल और जॉन केनल स्कूल में की थी। इसके अलावा अमेरिका की कोर्नेल यूनिवर्सिटी से स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग की पढाई १९६२ में की थी, आखिर में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से १९७५ में एडवांस मैनेजमेंट प्रोग्राम किया था।

नाम रतन नवल टाटा
जन्म 28 दिसंबर 1937
आयु 84 वर्ष
शिक्षा कॉर्नेल विश्वविद्यालय
हार्वर्ड बिज़नेस स्कूल
परिवार नवल टाटा (पिता)
सूनी कमिश्रिएट (माँ)
पेशा टाटा संस और टाटा समूह के पूर्व अध्यक्ष
कार्यकाल 1962–2012
जीवनसाथी अविवाहित

रतन टाटा जन्म और परिवार

रतन टाटा का जन्म 28 दिसंबर 1937 को सूरत में हुआ था. रतन टाटा का जन्म गुजरात में रहने वाले काफी नामी और कारोबारी परिवार में हुआ था। उनके पिता का नाम नवल टाटा और माता का नाम सोनू टाटा था। लेकिन जन्म के बाद ही माता पिता में ऐसा विवाद हुआ की दोनों अलग हो गए फिर दादी (नवाज बाई टाटा) ने उनका पालन पोषण किया अच्छी पढाई की और विदेश में भी पढ़े।

नाम रतन नवल टाटा
पिता का नाम नवल टाटा
माता का नाम सोनू टाटा
दादा का नाम श्री जमशेद जी टाटा
दादी का नाम नवाज बाई टाटा

रतन टाटा पढाई

रतन टाटा ने शुरुआती पढाई मुंबई के कैथेड्रल और जॉन केनल स्कूल में की थी। इसके अलावा अमेरिका की कोर्नेल यूनिवर्सिटी से स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग की पढाई १९६२ में की थी आखिर में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से १९७५ में एडवांस मैनेजमेंट प्रोग्राम किया था। लेकिन जब कारोबार शुरू करने की बात आई तो फिर से कठिन हालात से गुजर रही कंपनी की जिम्मेदारी सौप दी गयी, लेकिन बचपन से ऐसे हालात का सामना करने की आदत यहाँ काम आई उससे मुँह मोड़ने के बजाय हंसकर मुकाबला किया और कंपनी को फायदे में ले आये।

रतन टाटा बिज़नेस घराने से थे पढाई के बाद उन्हें साल १९७१ में राष्ट्रीय रेडियो और इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी (NELCO) में प्रभारी निदेशक नियुक्त किया गया था। जब उन्हें ये कमान सोपी गयी उस वक्त कंपनी बुरे दौर से गुजर रही थी, लेकिन इससे मुँह मोड़ने के बजाय रतन टाटा ने अपनी काबिलियत के दम पर NELCO कंपनी को इस झटके से उबारा बल्कि २० प्रतिसत तक हिस्सेदारी भी बढ़ाने में सफल रहे। हालांकि इमरजेंसी और आर्थिक मंदी से कंपनी को काफी नुकशान हुआ था फिर १९७७ में टाटा को यूनियन की हड़ताल का सामना करना पड़ा जिसके चलते बाद में नेलको कंपनी बंद करनी पड़ी थी।

नमक से लेकर एयर इंडिया तक का सफर

रतन टाटा के नेतृत्व नेतृत्व नेतृत्व में टाटा ग्रुप ने अपने कारोबार को इतना बढ़ाया की घर की रसोई से लेकर आसमान तक टाटा ही टाटा हो रहा है। आज नमक-मसाले हों या फिर पानी-चाय-कॉफी, घड़ी-ज्वैलरी या लग्जरी कार, बस, ट्रक और हवाई जहाज (Air India) का सफर टाटा ग्रुप (Tata Group) का कारोबार हर क्षेत्र में फैला हुआ है, टाटा ग्रुप देश की जीडीपी (india GDP) में 2 परसेंट का योगदान करती है।

air india

दुनिया की सबसे सस्ती कार नैनो बनाई

रतन टाट के निर्देशन में कंपनी ने “जैगुआर लैंड रोवर” जैसी महंगी कारे भी बनाई साथ ही रतन टाटा ने दुनिआ की सबसे सस्ती कार भी बनाई जिसके बारे में लोगो ने सोचा भी नहीं था। रतन टाटा ने लाख रूपए में कार लेने के सपने को साकार किया था, रतन टाटा की महज १ लाख रूपए की लागत वाली नैनो कार को दुनिआ की सबसे सस्ती कार बताया गया २८ दिसंबर २०१२ को रतन टाटा, टाटा ग्रुप के सभी कार्यकारी जिम्मेदारियों से रिटायर हो गए थे इसके बाद साइरस मिस्त्री को टाटा ग्रुप की ज़िम्मेदारी शौपी गयी थी हालांकि रतन टाटा रिटायरमेंट के बाद भी एक्टिव है और काम कर रहे है।

टाटा ग्रुप की सभी कम्पनिया

S. No.Companies
टाटा स्टील्स
टाटा स्टील्स
टाटा मोटर्स
टाटा कंसल्टेंसी सर्विस
टाटा केमिकल्स
टाटा कमपनी
टाटा पावर
ट्रेंड लिमिटेड
टाटा कम्युनिकेशन
१० टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट
११ टाटा स्टील लॉन्ग प्रोडक्ट
१२ नलको
१३ टाटा कॉफ़ी
१४ टाटा इन्वेस्ट कारपोरेशन लिमिटेड

रतन टाटा के पुरुस्कार

वर्ष नाम पुरस्कार देने वाली संस्था
२००० पद्म भूषण भारत सरकार
२००१ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन के मानद डॉक्टरओहियो स्टेट यूनिवर्सिटी
२००४ उरुग्वे के ओरिएंटल गणराज्य का पदकउरुग्वे सरकार
२००४ प्रौद्योगिकी के मानद डॉक्टरएशियाई प्रौद्योगिकी संस्थान।
2005अंतर्राष्ट्रीय विशिष्ट उपलब्धि पुरस्कारB’nai B’rith इंटरनेशनल
2005विज्ञान के मानद डॉक्टरवारविक विश्वविद्यालय.
२००६ जिम्मेदार पूंजीवाद पुरस्कारभारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास
२००६ जिम्मेदार पूंजीवाद पुरस्कारविज्ञान और प्रौद्योगिकी की प्रेरणा और मान्यता के लिए (प्रथम)
२००७ मानद फैलोशिपलंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स एंड पॉलिटिकल साइंस
२००७ परोपकार का कार्नेगी पदकअंतर्राष्ट्रीय शांति के लिए कार्नेगी बंदोबस्ती
२००८ पद्म विभूषणभारत सरकार
२००८ कानून के मानद डॉक्टरकैम्ब्रिज विश्वविद्यालय
२००८ विज्ञान के मानद डॉक्टरभारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान बंबई
२००८ विज्ञान के मानद डॉक्टरभारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान खड़गपुर
२००८ मानद नागरिक पुरस्कारसिंगापुर सरकार
२००८ मानद फैलोशिपइंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी संस्थान
२००९ ऑर्डर ऑफ़ द ब्रिटिश एम्पायर (KBE) के मानद नाइट कमांडरक्वीन एलिजाबेथ II
२००९ 2008 के लिए इंजीनियरिंग में लाइफ टाइम कंट्रीब्यूशन अवार्डभारतीय राष्ट्रीय इंजीनियरिंग अकादमी
2009 इतालवी गणराज्य के ऑर्डर ऑफ मेरिट के ग्रैंड ऑफिसरइटली की सरकार
२०१० कानून के मानद डॉक्टरकैम्ब्रिज विश्वविद्यालय
२०१०हैड्रियन पुरस्कारविश्व स्मारक कोष
२०१०शांति पुरस्कार के लिए ओस्लो बिजनेसबिजनेस फॉर पीस फाउंडेशन
२०१०लीजेंड इन लीडरशिप अवार्डयेल विश्वविद्यालय
२०१०कानून के मानद डॉक्टरपेपरडाइन विश्वविद्यालय
२०१०शांति पुरस्कार के लिए व्यापारबिजनेस फॉर पीस फाउंडेशन
२०१०लीजेंड इन लीडरशिप अवार्डयेल विश्वविद्यालय
२०१२ मानद साथीरॉयल एकेडमी ऑफ इंजीनियरिंग
२०१२ डॉक्टर ऑफ बिजनेस मानद उपाधिन्यू साउथ वेल्स यूनिवर्सिटी
२०१३ विदेशी सहयोगीराष्ट्रीय इंजीनियरिंग अकादमी
२०१३ दशक के परिवर्तनकारी नेताइंडियन अफेयर्स इंडिया लीडरशिप कॉन्क्लेव 2013
२०१३ अर्न्स्ट एंड यंग एंटरप्रेन्योर ऑफ द ईयर – लाइफटाइम अचीवमेंटअर्न्स्ट एंड यंग
२०१३ बिजनेस प्रैक्टिस के मानद डॉक्टरकरनेगी मेलों विश्वविद्याल
२०१४ व्यवसाय के मानद डॉक्टरसिंगापुर प्रबंधन विश्वविद्यालय
२०१४ सयाजी रत्न पुरस्कारबड़ौदा मैनेजमेंट एसोसिएशन
२०१४ मानद नाइट ग्रैंड क्रॉस ऑफ़ द ऑर्डर ऑफ़ द ब्रिटिश एम्पायर (जीबीई)क्वीन एलिजाबेथ II
२०१४ कानून के मानद डॉक्टरयॉर्क यूनिवर्सिटी, कनाडा
२०१५ ऑटोमोटिव इंजीनियरिंग के मानद डॉक्टरक्लेम्सन विश्वविद्यालय
२०१५ सयाजी रत्न पुरस्कारबड़ौदा मैनेजमेंट एसोसिएशन, ऑनोरिस कॉसा, एचईसी पेरिस
२०१६ लीजन ऑफ ऑनर के कमांडरफ़्रांस की सरकार
२०१८ डॉक्टरेट की मानद उपाधिस्वानसी विश्वविद्यालय
२०२१ असम बैभवअसम सरकार

Ratan Tata Biography in Hindi पूछे गए प्रश्न और उत्तर

रतन टाटा कौन है ?

रतन टाटा टाटा संस और टाटा समूह के चेयरमैन है वह अपने परोपकारी कार्यो के लिए भी जाने जाते है।

रतन टाटा का जन्म कब और कहा हुआ ?

रतन नवल टाटा का जन्म 28 दिसम्बर 1937 को सूरत में हुआ था।

रतन टाटा की पत्नी कोन है ?

रतन टाटा की शादी नहीं हुई है जब वो लॉस एंजल्स में काम करते थे। तब उन्हें एक लड़की से प्यार हो गया था और उनकी दादी के बीमार होने के कारण वह भारत लौट आये थे। लड़की भी भारत आना चाहती थी लेकिन उसके माता पिता ने नहीं आने दिया रतन टाटा उससे इतना प्यार करते थे और आज तक शादी नहीं की।

क्या रतन टाटा शादी सुधा है ?

नहीं, रतन टाटा की शादी नहीं हुई है।

Leave a comment